No Widgets found in the Sidebar
Computer

Computer Hardware को हम ऐसे Physical उपकरण कह सकते हैं जो कंप्यूटर को Operate करने में हमारी मदद करते हैं. कंप्यूटर हार्डवेयर Data या Instructions को कंप्यूटर द्वारा संसाधित करने में मदद करता है। Computer Hardware के उदाहरणों में Processor, Memory, Hard Drive और Video Card शामिल हैं। ये घटक उन कार्यों को करने के लिए एक साथ काम करते हैं जो उपयोगकर्ता (Computer User) को कंप्यूटर से Interact करने की अनुमति देते हैं।

WhatsApp Group Join Now

Computer Software एक ऐसा निर्देशों का एक सेट है, Program है जो Hardware को बताता है कि उसे क्या करना है और कैसे करना है। Computer Software के उदाहरण Web Browser हैं जहां हम किसी वेबसाइट check करते हैं, Operating System जिसकी मदद से हमने विभिन्न Computer operations करते हैं।

Computer
Computer

कुछ Computer Hardware का विवरण :

1)Processor :

Processor कंप्यूटर का प्राथमिक घटक है जो अधिकांश प्रोसेसिंग करता है। इसे Central Processing Unit (CPU) भी कहा जाता है। प्रोसेसर एक कंप्यूटर के प्रोग्राम के निर्देशों को पूरा करने के लिए जिम्मेदार है, प्रोसेसर कई प्रकार के कार्य करता है, जिसमें Basic Arithmatic and Logical Operation (ALU), Input/Output devices , Managinh system resurces आदि.

Processor
Processor

2) MotherBoard :

मदरबोर्ड Computer का मुख्य सर्किट बोर्ड होता है और सभी विभिन्न Hardware component को एक साथ जोड़ने के लिए जिम्मेदार होता है। इसमें कई Slots और Connector होते हैं जिनसे विभिन्न घटक जुड़े होते हैं। CPU (सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट) आमतौर पर Motherboard पर लगाया जाता है और यह Computer का “Brain” है। यह अधिकांश Processing कार्य करता है और Motherboard के माध्यम से अन्य घटकों के साथ संचार करता है।

मदरबोर्ड में Memory के लिए Slots भी होते हैं, जो CPU द्वारा उपयोग किए जाने वाले Data और Program को स्टोर करते हैं। इसमें अतिरिक्त Storage Devices जैसे Hard Drive, Solid State drive (SSDs) के लिए कनेक्टर भी हो सकते हैं। मदरबोर्ड में Keyboard, Mouse और Display जैसे उपकरणों को जोड़ने के लिए विभिन्न Ports और Connectors भी होते हैं।

Motherboard
Motherboard

10 Input-Output Devices of Computer in Hindi !

3) Memory :

इसे RAM (Random Access Memory) के रूप में भी जाना जाता है, एक प्रकार का Computer Hardware है जिसका उपयोग Data और Programe को स्टोर करने के लिए किया जाता है जो वर्तमान में Processor द्वारा उपयोग में हैं। इसे “Random Access” कहा जाता है क्योंकि प्रोसेसर आवश्यक डेटा प्राप्त करने के लिए Step by Step जाने के बजाय सीधे RAM में किसी भी स्थान तक पहुंच सकता है।

Computer Memory के दो मुख्य प्रकार हैं: Volatile और Non-Volatile। Volatile Memory,जैसे कि RAM, अस्थायी होती है और कंप्यूटर के बंद होने पर मिटा दी (Data erased after shut down of computer) जाती है। Non-Volatile मेमोरी, जैसे कि हार्ड ड्राइव (Hard drive) या सॉलिड-स्टेट ड्राइव (SSD), Computer बंद होने पर भी डेटा को बनाए (Data get stored even after shutdown of computer) रखती है।

जब एक कंप्यूटर चालू होता है, तो Operating system और अन्य प्रोग्राम, Storage drive (जैसे हार्ड ड्राइव) से Memory में लोड हो जाते हैं। मेमोरी आमतौर पर Cells /slots में व्यवस्थित होती है, जिनमें से प्रत्येक Data का एक टुकड़ा स्टोर कर सकती है। इन Cells का Size, और सिस्टम में मेमोरी की कुल मात्रा, यह निर्धारित करती है कि किसी भी समय कितना Data Stored और Access किया जा सकता है।

RAM
Random Access memory

4) KeyBoard and Mouse :

Keyboard एक Input Device है जिसका उपयोग कंप्यूटर में Text, Number और अन्य डेटा दर्ज करने के लिए किया जाता है। इसमें Keys का एक सेट होता है जिसे दबाकर Letters, Numbers और Symbols का निर्माण किया जा सकता है। Keyboard/Keys का लेआउट QWERTY डिज़ाइन पर आधारित है।

Mouse एक अन्य प्रकार का Input Device है जिसका उपयोग कंप्यूटर स्क्रीन पर Curser कर्सर की गति को नियंत्रित करने के लिए किया जाता है। इसमें एक या एक से अधिक बटनों के साथ एक छोटा Casing होता है, और अक्सर कीबोर्ड के साथ Combination में उपयोग किया जाता है। माउस को आमतौर पर एक Plane Surface पर रखा जाता है और Curser कर्सर को screen स्क्रीन पर ले जाने के लिए चारों ओर ले जाया जाता है। कुछ Mouse में अतिरिक्त बटन भी होते हैं जिनका उपयोग विशिष्ट कार्य करने के लिए किया जा सकता है।

कंप्यूटर Keyboard और Mouse के माध्यम से Input प्राप्त करता है और स्क्रीन पर क्रियाओं में इसका अनुवाद करता है। अधिकांश Computer के लिए Keyboard और Mouse आवश्यक Input Devices हैं, और Word Processing, Spreadsheet निर्माण और Web Browsing सहित विभिन्न प्रकार के Applications में उपयोग किए जाते हैं।

Keyboard
Keyboard

5) Display / Moniter :

एक Display, जिसे मॉनिटर के रूप में भी जाना जाता है, एक उपकरण है जिसका उपयोग कंप्यूटर के Output को देखने के लिए किया जाता है। इसमें एक Screen होती है, जो आमतौर पर Liquid Crystal display (LCD) या Cathode Ray Tube (CRT) तकनीक की एक पतली परत से बनी होती है, और इस Display के अंदर Screen पर छवि प्रदर्शित करने के लिए आवश्यक इलेक्ट्रॉनिक्स और कनेक्शन होते हैं।

कंप्यूटर एक कनेक्शन के माध्यम से डिस्प्ले को संकेत भेजता है, जो एक Physical Cable जैसे कि HDMI या VGA, या एक वायरलेस कनेक्शन जैसे Bluetooth या Wi-Fi हो सकता है। डिस्प्ले विभिन्न आकारों में आते हैं, Laptop और Tablet पर छोटी स्क्रीन से लेकर Desktop और TV पर बड़ी स्क्रीन तक।

Moniter

6) Graphics Card :

Graphics Card कई कंप्यूटरों का एक महत्वपूर्ण घटक है, विशेष रूप से वे जो Gaming या अन्य Graphics Intensive कार्यों के लिए उपयोग किए जाते हैं। वे Size और Capabilities की एक विस्तृत श्रृंखला में उपलब्ध हैं, और CPU से Graphics Processing कार्यों को Upload करके कंप्यूटर के प्रदर्शन को बेहतर बनाने के लिए उपयोग किया जा सकता है। एक ग्राफ़िक्स कार्ड, जिसे ग्राफ़िक्स प्रोसेसिंग यूनिट (GPU) के रूप में भी जाना जाता है, एक विशेष प्रोसेसर है जिसका उपयोग Computer पर Images और Video के प्रतिपादन को संभालने के लिए किया जाता है।

यह स्क्रीन पर प्रदर्शित Video को बनाने के लिए जिम्मेदार है, और इन कार्यों को कंप्यूटर की CPU की तुलना में अधिक कुशलता से करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। Graphics Card कंप्यूटर के Motherboard से जुड़ा होता है और CPU से डेटा प्राप्त करता है कि स्क्रीन पर क्या प्रदर्शित किया जाना है।

Graphics Card

7) Networking hardware:

Networking Harware एक प्रकार का Computer Hardware है जिसका उपयोग Network बनाने के लिए, कंप्यूटर और अन्य उपकरणों को एक साथ जोड़ने के लिए किया जाता है। यह उपकरणों को एक दूसरे के साथ Communication करने और नेटवर्क कनेक्शन पर Data का आदान-प्रदान करने की अनुमति देता है।

Network Hardware में Router, Switch, Hub और Modem सहित कई अलग-अलग प्रकार के नेटवर्किंग हार्डवेयर शामिल है।

कुछ Computer Software का विवरण :

Computer Software, जिसे Software या Computer Program के रूप में भी जाना जाता है, निर्देशों का एक समूह है जो कंप्यूटर को बताता है कि क्या करना है। Software को कंप्यूटर को उपयोग में आसान और अधिक शक्तिशाली बनाने के लिए Design किया गया है। यह लोगों को कंप्यूटर पर सरल से लेकर जटिल तक कई तरह के कार्य करने की अनुमति देता है।

इसे दो श्रेणियों में वर्गीकृत किया जा सकता है: System Software और Application Software.

1) System Software :

सिस्टम सॉफ्टवेयर (System Software) वह सॉफ्टवेयर है जो Computer Systems के हार्डवेयर घटकों का प्रबंधन और नियंत्रण करता है। इसमें Operating System शामिल है, जो System सॉफ्टवेयर का सबसे महत्वपूर्ण प्रकार है। यह कंप्यूटर पर अन्य सभी Software और Hardware को नियंत्रित करता है, और अन्य सॉफ्टवेयर को चलाने के लिए एक Platform प्रदान करता है। System Software के अन्य उदाहरणों में Device Driver शामिल हैं, जो ऑपरेटिंग सिस्टम को विशिष्ट हार्डवेयर उपकरणों और Utility Program के साथ संचार करने की अनुमति देते हैं, जो कंप्यूटर Maintenance कार्य करते हैं।

2) Application Software :

एप्लिकेशन सॉफ़्टवेयर(Application Software) वह सॉफ़्टवेयर है जो उपयोगकर्ता के लिए विशिष्ट कार्य करता है। Application Software के उदाहरणों में Word Processor, Excel Program और Media Player/Audio Player शामिल हैं। Application Software आमतौर पर उपयोगकर्ता के व्यक्तिगत कंप्यूटर या डिवाइस पर इंस्टॉल किया जाता है, और इसका उपयोग Documents को बनाने और Save करने, Data व्यवस्थित करने और दूसरों के साथ संवाद करने जैसे कार्यों करने के लिए किया जाता है।

तो दोस्तों इस ब्लॉग के जरिए हमने कंप्यूटर की Computer Hardware and software जानकारी आपको दी है। उम्मीद करता हूं कि आपको यह जानकारी फायदेमंद साबित होगी ।अगर यह जानकारी आपको अच्छी लगी है तो आप यह आपके दोस्तों रिश्तेदारों के साथ बिल्कुल शेयर कीजिए। धन्यवाद् !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *